रियो डी जनेरियो

1

रियो ओलम्पिक के आखिरी दिन रविवार को पुरुषों की मैराथन स्पर्धा में भारतीय रनर गोपी थनकल और खेता राम ने 25वां और 26वां स्थान हासिल किया. गोपी और खेता राम भारत के लिए पदक तो नहीं ला सके, लेकिन दोनों ही धावकों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी और अपना-अपना व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ किया.
गोपी ने दो घंटा 15 मिनट 25 सेकेंड में फिनिश लाइन पार की, जबकि खेता राम दो घंटा 15 मिनट 26 सेकेंड का समय निकालते हुए उनसे ठीक पीछे रहे।
गोपी स्पर्धा के विजेता से जहां छह मिनट 41 सेकेंड पीछे रहे, वहीं खेता राम उनसे छह मिनट 42 सेकेंड पीछे रहे।
एक अन्य भारतीय प्रतिभागी नितेंद्र सिंह रावत का प्रदर्शन निराशाजनक रहा. नितेंद्र दो घंटा 22.52 मिनट का समय निकालते हुए 84वां स्थान हासिल किया। इवेंट का गोल्ड केन्या के इलियूड किपचोगे (2:08.44) ने हासिल किया, जबकि इथियोपिया के फेइजा लिलेजा (2:09.54) ने सिल्वर और अमेरिका के गालेन रुप (2:10.05) ने ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया।

gopiबाड़मेर । धावक खेताराम के घर युवा नेता डां,रमन जी चौधरी ,बालाराम जी मुढ, टिकुराम जी लेगा ,वगताराम जी सरपंच ,एडवोकेट चुनाराम जाखड़ , दिने खांन खोखसर सहित अन्य ग्रामीण खेताराम जी के पिताजी व माता जी और पत्नी सहित परिवार के साथ खोखसर पुर्व मे उनके घर TV के माध्यम से लाइव देखते हुए ।