हल्दीघाटी रन टू ब्रीथ हाफ मैराथन से सामने आएंगी युवा प्रतिभाएं: सपना पूनिया

0
28
img-20161004-wa0021जयपुर । युवा एथलीट और ओलंपियन सपना पूनिया का मानना है कि हल्दीघाटी रन टू ब्रीथ हाफ मैराथन से युवा प्रतिभाएं सामने आएंगी। सपना पूनिया ने रियो ओलंपिक के बीस किलोमीटर पैदल चाल में भारत की नुमाइंदगी की थी। सपना हल्दीघाटी रन टू ब्रीथ हाफ मैराथन की सदभावना राजदूत बनी हैं। जयपुर में बुधवार को आयोजक संस्था रोयोन के फजल इमाम मल्लिक और अमित किशोर ने सपना पूनिया से मुलाकात की और उन्हें हल्दीघाटी हाफ मैराथन के सदभावना दूत बनने क पत्र सौंपा। इस मौके पर उनके कोच अनिल पूनिया भी मौजूद थे। राजस्थान पुलिस में उपनिरीक्षक सपना पूनिया ने कहा कि इस तरह के आयोजन छोटी जगहों पर होने चाहिए ताकि वहां की खेल प्रतिभाएं सामने आ सकें और राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बेहतर प्रदर्शन कर सके। सपना ने कहा कि ग्रामीण इलाकों में प्रतिभाओं की कमी नहीं है, जरूरत उन्हें सामने लाने की है और रोयोन सामाजिक संस्थान ने यह पहल कर बड़ा काम किया है।
सपना ने 2013 में लखनऊ में 10 किमी में स्वर्ण पदक, 2014 में पटियाला में 20 किमी में रजत पदक, नई दिल्ली में 20 किमी में स्वर्ण और हरियाणा के मधुवन में 10 किमी में स्वर्ण पदक जीता था। 15 मार्च 2015 में जापान में हुई एशियन चैंपियनशिप में वे चौथे स्थान पर रहीं थीं। इसी साल अमेरिका में हुए वर्ल्ड पुलिस गैंम में स्वर्ण पदक जीत कर नया इतिहास बनाया था। 2015 में ही चीन में हुई विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व किया था।
एशियन वॉकिंग चैम्पियनशिप में एक घंटा 35 मिनट 36 सैंकेण्ड में 20 किमी की दूरी तय कर एशिया महादीप में चौथा स्थान प्राप्त किया था। इसके अलावा अमेरिका के वर्जिनिया वर्ल्ड पुलिस खेलों में 5 किमी में सपना स्वर्ण पदक जीत चुकी हैं।उन्होंने उम्मीद जताई कि हल्दीघाटी हाफ मैराथन से स्थानीय प्रतिभाएं सामने आएंगी और भविष्य में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की नुमाइंदगी करेंगी। उन्होंने हाफ मैराथन की कामायाबी के लिए रोयोन को अपनी शुभकामनाएं भी दीं। उन्होंने छात्रों को स्कालरशिप दिए जाने को भी सराहा और कहा कि इससे प्रतिभावान एथलीटों को मदद मिलेगी। इससे पहले ओलंपियन श्रीराम सिंह, लिबा राम, अखिल कुमारऔर अंतरराष्ट्रीय तीरंदाज जयंती लाल भी हल्दीघाटी हाफ मैराथन से बतौक सदभावना राजदूत जुड़ चुके हैं।
हल्दीघाटी में हाफ मैराथन नौ अक्तूबर को होगी। हाफ मैराथन का आयोजन रोयोन सामत ाजिक संस्थान ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण, वेदान इंडिया, सेलिब्रेशन माल और क्रियेटिव ब्रेन अकादमी के सहयोग से किया गया है। रोयोन के अध्यक्ष डा अमीद मुराद ने बताया कि वेदान रन टू ब्रीथ हाफ मैराथन की विभिन्न स्पर्धाओं में हिस्सा लेने वाले धावकों को ढाई लाख की इनामी रकम दी जाएगी। हल्दीघाटी रन टू ब्रीथ में ढाई किलोमीटर, पांच, दस व 21 किलोमीटर की दौड़ में धावक हिस्सा लेंगे। राजसमंद जिले के स्कूली छात्र भी इस दौड़ में हिस्सा लेंगे। हाफ मैराथन रक्त तलई, शाही बाग व चेतक समाधि के बीच होगी। मुकाबले पुरुष व महिला दोनों वर्गों में होंगे।