ड्रग्स रैकेट में फंसी फिल्म एक्ट्रेस चार्मी कौर को हाई कोर्ट से राहत

857

हैदराबाद : हैदराबाद ड्रग्स रैकेट की जांच कर रही तेलंगाना के आबकारी विभाग की विशेष जांच टीम (एसआईटी) ने बुधवार को अभिनेत्री चार्मी कौर से पूछताछ की है। चार्मी सुबह करीब 10 बजे अपने वकील और बाउंसर्स के साथ तेलंगाना के मद्य निषेध और आबकारी विभाग के ‘आबकारी भवन’ पहुंची हैं। चार्मी कौर पुरी जग्गनाथ की फिल्म ‘पैसा वसूल’ के सेट से सीधे एसआईटी के समक्ष पेश हुईं। पिछले सप्ताह इस मामले में पुरी से भी पूछताछ की गई थी। महिला अधिकारियों की एक चार सदस्यीय टीम ने अभिनेत्री से रैकेट के सरगना कैल्विन मासक्रेन्हास से उनके संबंध को लेकर पूछताछ की। ड्रग्स रैकेट कांड में फंसी टॉलीवुड एक्ट्रेस चार्मी कौर को हाईकोर्ट ने राहत दी है। कोर्ट के आदेश पर स्पेशल टीम की पूछताछ के दौरान अब चार महिलाओं की टीम भी मौजूद रहेगी। एक्ट्रेस ने आबकारी विभाग से समन मिलने पर हैदराबाद हाईकोर्ट में अपील करते हुए इस मामले में हस्‍तक्षेप करने की मांग की थी। जानकारी के मुताबिक, हैदराबाद हाईकोर्ट ने एक्ट्रेस चार्मी कौर की अपील के बाद उसे राहत दी है। कोर्ट ने एक्ट्रेस से पूछताछ का समय सुबह 10:30 से शाम 5 बजे तक निर्धारित किया है। एक्ट्रेस से पूछताछ 4 महिला पुलिस अफसर की निगरानी में की जाएगी। कोर्ट ने एक्ट्रेस के डीएनए सैंपल लेने से भी मना किया है। आबकारी विभाग के सरकारी वकील ने कोर्ट में एक्ट्रेस को एक गवाह बाताया है। उनके मुताबिक, इस मामले में विभाग सभी कानूनी निर्देशों के तहत ही पूछताछ कर रहा है। ड्रग्स रैकेट के इस मामले में अब तक कई नामचीन टॉलीवुड सेलेब्रिटी और बड़े लोगों से पूछताछ की जा चुकी है। इस मामले में चार्मी को समन भेजा गया था। बताते चलें कि चार्मी कौर टॉलीवुड की मशहूर अदाकारा हैं। उन्होंने अब तक करीब 40 टॉलीवुड और कुछ बॉलीवुड फिल्में की हैं। हैदराबाद में ड्रग्स रैकेट के भंडाफोड़ के बाद जांच के दौरान चार्मी कौर का नाम सामने आया था। उन्हें जब समन भेजा गया, तो पूछताछ से छवि बिगड़ने का हवाला देकर हाईकोर्ट में अपील की थी। बीती 4 जुलाई को आबकारी टीम ने एक बड़े ड्रग्स रैकेट का भंडाफोड़ किया था। इस मामले में 12 तस्करों की गिरफ्तारी की गई थी। इस मामले का मुख्य आरोपी केल्विन को बताया गया था। केल्विन से पूछताछ के दौरान कई बड़े टॉलीवुड हस्तियों के नाम इस मामले में सामने आए थे। इसके बाद आबकारी विभाग जांच कर रही है।