Main Menu

मारवाड़ में बारिश से तबाही, बाड़मेर में बाढ़, सेना-अफसर अलर्ट

GEETANJALI POST

बुधवार, 26-जुलाई-2017 जोधपुर, पश्चिमी राजस्थान में बारिश ने भारी तबाही मचा रखी है। पाली, सिरोही जालोर में भारी बारिश हो रही है। यहां बाढ़ के हालातों के बीच बाड़मेर में भी हालात बेकाबू हो गए। बारिश के कारण बाड़मेर में बाढ़ आई है। इस जिले के गुड़ामालानी में 10 घंटे में 10 इंच पानी गिरा। एनडीआरएफ और सेना को अलर्ट किया गया है। सेना बचाव राहत कार्य में जुटी है। कई इलाकों में पानी घुसने से लोगों ने छतों पर शरण ली हुई है। सिरोही, जालोर, पाली, उदयपुर के लिए जाने वाली बसें रद्द कर दी गई हैं। जिला कलेक्टर ने अफसरों की छुटि्टयां रद्द कर दी हैं। माउंट आबू में कल फिर 30 इंच बारिश हुई।

आज भी रुक-रुक कर बारिश हो रही है। यहां 24 घंटे में 324 मिलीमीटर पानी बरसा। माउंट आबू में एक जून से अब तक 96 इंच बारिश हो चुकी है, जबकि गत तीन दिन में यहां 68 इंच पानी बरसा है। यहां 2000 पर्यटक बारिश में फंसे हुए हैं। यहां कुछ जगहों पर लैंडस्लाइड से रास्ते बंद हो गए हैं। यहां बचाव राहत कार्य चलाया जा रहा है। बाढ़ के हालातों को देखते हुए बाड़मेर, पाली और सिरोही में बुधवार को स्कूल बंद रखने की घोषणा की गई। जालोर के सियाणा-सायला के निकट धनानी में फंसे 22 लोगों को सेना ने हेलिकॉप्टर से लिफ्ट कर सुरक्षित निकाल लिया। टूरा गांव में फंसे 6 लोगों को भी मंगलवार को ग्रामीणों ने सुरक्षित निकाल लिया।

डूंगरपुर में एक कार बह गई। इस हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई और दो जने लापता हैं। पाली में नदी-नाले उफान पर हैं। अधिकतर बांध फुल हैं। 44 बांधों में से 20 बांध ओवरफ्लो हैं। जिले के कई गांव टापू बने हैं। बारिश के कारण उनका संपर्क कट गया। कई जगह घरों में पानी जमा है। जवाई बांध का जलस्तर 56 फुट हो गया है। इसकी कुल भराव क्षमता 61.25 फुट है। सिरोही में गांव खाली करा दिए गए हैं। अणगौर बांध ओवरफ्लो होने से उसकी दीवार टूट गई और गांव जलमग्न हो गए। रेवदर के निकट बासन गांव पानी भरने के बाद खाली कराया। जिले में अलग-अलग जगह 355 लोग सुरक्षित निकाले गए।






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *