आंगनबाडी केन्द्र होंगे हाईटेक

343
76
मुख्यमंत्री ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को दिए स्मार्टफोन 
जयपुर, 10 अक्टूबर। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने मंगलवार को अजमेर से प्रदेश के आंगनबाड़ी केन्द्रों को हाईटेक किए जाने की शुरूआत की। उन्होंने आई.सी.डी.एस विभाग की स्निप परियोजना के तहत मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य तथा पोषण की निगरानी को सुदृढ़ करने के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्टफोन व टैबलेट दिए। योजना में 9 जिलों में 21 हजार 430 आंगनबाडी कार्यकर्ताओं को एन्ड्रॉइड फोन दिये जा रहे हैं।
राजे ने इन्फोर्मेशन कम्यूनिकेशन टेक्नोलॉजी एवं रियल टाइम मॉनिटरिंग कार्यक्रम के तहत आंगनबाड़ी कार्यकर्ता  अन्नपूर्णा पाराशर,  शोभना एवं  शकुन्तला भाटिया को एन्ड्रॉइड फोन एवं अलका शर्मा व गिरधर कंवर को एंड्रॉयड टेबलेट वितरित किए।
योजना के लागू होने से अजमेर, जयपुर, राजसमन्द, डूंगरपुर, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, अलवर  एवं भीलवाड़ा जिलों के आंगनबाडी कार्यकर्ताओं के सभी 11 रजिस्टरों के स्थान पर एक ही रजिस्टर रहेगा। शेष सभी आंकड़े मोबाइल पर रियल टाइम उपलब्ध होंगे। रियल टाइम डाटा उपलब्ध होने की दशा में बेहतर पर्यवेक्षण, नीति क्रियान्वयन एवं नीति निर्धारण की जा सकेगी।
योजना के तहत प्रथम चरण के 9 जिलों की 46 परियोजनाओं में 10 हजार 500 आंगनबाडी केन्द्रों के मास्टर टे्रनर का प्रशिक्षण आयोजित किया जा रहा है। माह के अन्त तक दक्ष प्रशिक्षकों द्वारा आंगनबाडी कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा।
कार्यक्रम में सार्वजनिक निर्माण एवं परिवहन मंत्री  यूनुस खान, शिक्षा राज्य मंत्री  वासुदेव देवनानी मंत्री, महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री  अनिता भदेल, संसदीय सचिव  सुरेश सिंह रावत, संसदीय सचिव  शत्रुघ्न गौतम, विधायक  शंकरसिंह रावत एवं विधायक भागीरथ चौधरी उपस्थित थे।