Breaking News
prev next

देवताओं की भूमि और कुदरती सुन्दरता को देखने आते है सर्वाधिक सैलानी

hridwar

जानिए हमारी ऐतिहासिक धरोहर (अनदेखा भारत) -36

गीतांजलि पोस्ट डॉ. प्रभात कुमार सिंघल, लेखक एवं पत्रकार, कोटा
देवभूमि (देवताओं की भूमि) के नाम से विख्यात उतराखण्ड धर्म एवं प्राकृतिक सौन्दर्य का संगम लिए देश का महत्वपूर्ण पर्यटन क्षेत्र है। हरी-भरी प्राकृतिक सुषमा से अच्छादित एवं हिमखण्डों से ध्वल आभा बिखेरती पर्वतों की ऊँची-ऊँची चोटियां, हिम खण्डों के पिघलने से इटलाती-बलखाती-कलचल करती गंगा एवं यमुना जैसी आराध्य नदियां और झिलमिलाते ऊँचाई से गितरते जलप्रपात, हिल स्टेशन, वन्यजीवों की अठखेलियां तथा मनोरंजन के लिए वाटर स्पोर्ट्स यहां कि अपनी ही विशेषताऐं है। बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री एवं यमुनोत्री की चारधाम यात्रा, पर्यावरण एवं पेड़ांे को बचाने के लिए सत्तर के दशक का चिपकों आन्दोलन, हरिद्वार का कुम्भ, ऋषिकेश की प्राकृतिक खूबसूरती के मध्य देश का प्रमुख योग केन्द्र भी उतराखण्ड की रेखांकित करने वाली विशिष्ठताएं हैं।
भारत के 27 वें राज्य के रूप में इसकी स्थापना 9 नवम्बर 2000 को की गई। वर्ष 2006 में स्थानीय लोगों की भावना के अनुरूप इसका नाम बदलकर उत्तराखण्ड किया गया। राज्य की सीमाऐं उत्तर में तिब्बत, पूर्व में नेपाल, पश्चिम में हिमाचल प्रदेश और पूर्व में उत्तर प्रदेश से लगी हैं। पूर्व में यह उत्तर प्रदेश का ही हिस्सा था। हिन्दू धर्म की पवित्र और भारत की सबसे बड़ी नदी गंगा और यमुना का यह उद्गम गंगोत्री और यमुनोत्री से हुआ। नदियों के तटों पर कई वैदिक संस्कृति कालीन महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल हैं। गंगा, अलकनन्दा, भागीरथी, रामगंगा, कोसी, गौमती आदि प्रमुख नदियां हैं। उत्तरांचल की कृषि प्रधान अर्थव्यवस्था में पर्यटन का महत्वपूर्ण योगदान है यहां बासमती चावल, गेहँू, सोयाबीन, मूंगफली, दाल एवं तिलहन प्रमुख विकसित फसलें हैं। यहीं पर खाद्य प्रसंस्करण के लिए सेव, लीची, आडू, नारंगी एवं प्लम जैसे फलों का उत्पादन बड़े पैमाने पर किया जाता है।
उत्तराखण्ड का सबसे बड़ा नगर देहरादून राज्य की राजधानी है। राज्य का उच्च न्यायालय नैनिताल में स्थित है। राज्य का कुल भौगोलिक क्षेत्रफल 53,483 वर्ग किमी हैं, जिसमें से अधिकांश भाग करीब (80 प्रतिशत) 43,035 वर्ग किमी पर्वतीय क्षेत्र है तथा (65 प्रतिशत) 34 हजार वर्ग किमी भू-भाग वनाच्छादित एवं 7.44 वर्ग किमी क्षेत्र मैदानी है। राज्य में उत्तरी भाग वृहत हिमालय ऊँची चोटियों की श्रृंखला से आच्छादित है और हिमखण्डों (ग्लेशियरों) से ढ़का है। पहाड़ों की तहलटी में सघन वनों का अद्भुत नजारा देखने को मिलता है। गंगोत्री, दूनगिरी, बन्दरपूंछ, केदार, चौखम्भा, कामेट, सतोपंथ, नीलकंठ, नन्दादेवी, गौरी पर्वत, हाथी पर्वत, मृगथनी, गुनी, माना एवं यूंगटागट महत्वपूर्ण हिमशिखरों में आते हैं। हिमालय के विशिष्ठ पारिस्थितिकीय तंत्र के अन्तर्गत पशु-पक्षी, पौधे एवं जड़ी-बूटियां वनों की विशेषताएं हैं। नैनीताल, भीमताल, नौकुचियाताल प्रमुख झीले हैं।
कला-संस्कृति एवं पर्यटन की दृष्टि से उत्तराखण्ड अतियन्त समृद्ध शाली राज्य हैं। हरिद्वार एक महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल है जहां हर बारह वर्ष में कुम्भ मेले का आयोजन किया जाता है, जिसमें बड़ी संख्या में देशी एवं विदेशी सैलानी भाग लेते हैं। नैनिताल, अलमोड़ा, कोसानी, भीमताल, रानीखेत, मंसूरी एवं ऋषिकेश राज्य के प्रमुख पर्वतीय पर्यटक स्थल हैं। हिन्दू धर्म में चार धामों की यात्रा को प्राचीन समय से ही पुण्यकारी एवं मोक्षदायीनी माना गया है। दीपावली, होली एवं दशहरा पर्वो के साथ-साथ स्थानीय पर्व चम्पावत में देवधुरी मेला, बागेश्वर में उत्तरायणी मेला, अरमोड़ा में नन्दादेवी मेला, कुमाऊँ में हरेला, चमोली में गोचर मेला, उत्तर काशी में माघ मेला आदि मुख्य रूप से मानाये जाते है। त्यौहारों एवं विशेष सामाजिक अवसरों पर आंगन को माण्डनों आदि से सजाने की परम्परा हैं। भगवान के प्रति डिकारे बनाये जाते हैं तथा दरवाजों के चौखट देवी-देवताओं, हाथी, शेर, मोर आदि के चित्रों से सजाये जाते हैं, जो पहाड़ी चित्रकला का एक रूप है। यहां की लोक धुने अन्य राज्यों से भिन्न है तथा नगाड़ा, ढोल, भेरी, बीन, कुरूली एवं अलगोजा प्रमुख वादय यंत्र हैं। लोकगीतों में बेडू पाको लोकििप्रय है जिसे अन्तर्राष्ट्रीय ख्याती प्राप्त है। साथ ही फाग, छपेली, बैर, न्यूयोली आदि प्रमुख हैं। समाज में लोक कथाओं एवं लोक विश्वासों का प्रचलन भी देखने को मिलता है। यहां छोलिया नृत्य विशेष रूप से लोकप्रिय है। यह नृत्य ऐतिहासिक युद्ध जैसा प्रतीत होता है। कुमाऊँ एवं गढ़वाल में महिलाऐं एवं पुरूष बड़े गोल घेरे में झोड़ा नृत्य करती हैं।
राज्य की जनगणना के अनुसार एक करोड़ से अधिक जनसंख्या निवास करती है। राज्य में दो संभाग एवं 13 जिले हैं और साक्षरता दर 78.82 प्रतिशत हैं। उत्तराखण्ड के चमोली जिले में स्थित फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान एवं नन्दा देवी राष्ट्रीय उद्यान दोनों मिलकर यूनेस्को की विश्वधरोहर सूची में मान बढ़ाते हैं। राज्य में भारत का पुराना राष्ट्रीय उद्यान जिम कार्बेट (बंगाल टाइगर), नैनिताल में रामनगर एवं उत्तरकाशी में गंगोत्री राष्ट्रीय उद्यान महत्वपूर्ण है। विद्युत उत्पादन की दृष्टि से टिहरी पन बिजलीघर महत्वपूर्ण विद्युत उत्पादन परियोजना है। यमुना, भागीरथी, अलखनन्दा, मन्दाकिनी, कोसी तथा काली आदि नदियांे पर पन बिजलीघर बनाये गये हैं। राज्य में उद्योग लगाने के लिए भी उद्यमी आगे आने लगे है। राज्य में हिन्दी, उर्दू, पंजाबी, बंगाली, नेपाली एवं स्थानीय गढ़वाली व पहारी बोली बोली जाती है।

It's only fair to share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn





Related News

  • एडवेंचर्स पयर्टन के लिए चले आईये सिक्किम
  • देवताओं की भूमि और कुदरती सुन्दरता को देखने आते है सर्वाधिक सैलानी
  • अतुल्य प्राकृतिक सुन्दरता का धनी केरल
  • इन्द्रधनुष से कम नहीं हैं जयपुर पर्यटन
  • हजारों वीरांगनाओं के जौहर की याद दिलाने वाला दुर्ग
  • पहाड़ों की गोद में इठलाता बूंदी
  • विश्व के सात आश्चर्यों एवं विरासत सूची में शामिल है ताजमहल
  • ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक विरासत को देखना हो तो आईये, हैदराबाद
  • 12 Comments to देवताओं की भूमि और कुदरती सुन्दरता को देखने आते है सर्वाधिक सैलानी

    1. Lelandpoogs says:

      Amazing! Its genuinely remarkable paragraph, I have got much clear idea about from this piece of writing.

    2. LucienNeast says:

      viagra sales uk
      viagra without a doctor prescription
      viagra sale in sydney
      <a href=http://thjsilden

    3. Bryanrat says:

      online pharmacy stock order viagra
      viagra price
      generic viagra cheap india
      <a href=http://sildenafilm

    4. Lelandpoogs says:

      Yes! Finally something about %keyword1%.

    5. Lelandpoogs says:

      I loved as much as you’ll receive carried out right here. The sketch is attractive, your authored material stylish. nonetheless, you command get bo

    6. Lelandpoogs says:

      Hello to every body, it’s my first go to see of this website; this blog contains awesome and really fine information for visitors.

    7. Lelandpoogs says:

      I’ll right away seize your rss as I can’t in finding your email subscription hyperlink or newsletter service. Do you’ve any? Please allow me realiz

    8. Lelandpoogs says:

      Sweet blog! I found it while searching on Yahoo News. Do you have any suggestions on how to get listed in Yahoo News? I’ve been trying for a while

    9. Lelandpoogs says:

      Hey there would you mind sharing which blog platform you’re working with? I’m going to start my own blog soon but I’m having a difficult time decid

    10. Lelandpoogs says:

      I read this piece of writing completely regarding the difference of most up-to-date and earlier technologies, it’s remarkable article.

    11. Lelandpoogs says:

      Every weekend i used to visit this website, for the reason that i wish for enjoyment, since this this web site conations actually nice funny stuff

    12. JustPt says:

      Is Amoxicillin Safe In Pregnancy Flagyl For Sale Best Prices For Prescription Viagra http://costofcial.com – online pharmacy Proventil Hfa 90 Mcg Inh

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *