Breaking News
prev next

रण हेतु संगठित हो जनमानस

गीतांजलि पोस्ट…( चन्द्रपाल प्रजापति, नोएडा)जब हमारा देश पाकिस्तान के साथ वैचारिक एवं सामाजिक रूप से युद्ध के कगार पर है। चारो तरफ युद्ध की ही चर्चा है। हर नागरिक अपने आपको देशभक्त सिद्ध करने पर तुला है। देश केवल वाहय रुप से युद्ध से ग्रसित नही है बल्कि आंतरिक रुप से भी असुरक्षित है। इस देश मे धार्मिक उन्माद बहुत बड़ा रूप धारण कर चुका है। हमेशा से धर्म मनुष्य के नैतिक विकास का माध्यम रहा है, परन्तु वर्तमान परिवेश मे धर्म को निहित स्वार्थ हेतु आतंकवाद का प्रयोग हो रहा है। तथाकथित इस्लामिक जेहाद की दुहाई देकर भोले भाले धर्म सहिष्णु लोगो को आतंकवाद की भट्टी मे धकेला जा रहा है। बात जब धार्मिक आतंकी संगठनों की होती है तो बारीकी से विश्लेषण करने पर पता चलता है कि ऐसे लोग धार्मिक ग्रन्थों का अपने हिसाब से गलत विश्लेषण करके भोले भाले लोगो को जिनको इन ग्रन्थों की सही समझ नही होती है अपने जाल मे फ़ांस कर आतंकवाद की आग मे धकेल देते हैं। वर्तमान मे कश्मीर से कन्याकुमारी तक आतंकवाद एक बड़ा रूप धारण कर चुका है। हजारो की संख्या मे आतंकवादी गतिविधियां सक्रिय हैं। एक तरफ जहां धर्म के नाम से आतंकवाद फल फूल रहा है तो वहीं दूसरी तरफ नक्शलवादी, माओवादी क्षेत्र, सामाजिक हित एवं भाषा के नाम पर हिंसा फैला रहें हैं। 

सबसे विचित्र बात है कि जिस समुदाय के लोग आतंकवाद मे संलिप्त पाये जाते हैं उन्हें लगता है आरोप बेकसूर हैं। इसके चलते उस समुदाय के नेतागण अनजाने मे ही आतंकी संगठनों की मदद कर देते हैं। आतंकवाद भारत की सबसे बड़ी समस्या है जिसने हमारी शासन व्यवस्था को कमजोर कर दिया। जिससे हमारी सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक व्यवस्था प्रभावित है।
यदि समस्या का निवारण शांतिपूर्वक हल ना हो तो उसका समाधान कठोरता से करना होगा। उसमे राजनीतिक एवं सामाजिक हस्तक्षेप को खत्म करना होगा। विकास की दृष्टि से पिछड़े राज्यो के विकास पर ध्यान देना होगा। नैतिक शिक्षा की व्यवस्था कर सामाजिक जीवन मे नैतिक मूल्यों को प्रतिष्ठित करना होगा। हमे सब्सिडी खत्म कर मुफ्त शिक्षा, मुफ्त चिकित्सा जैसी मुलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति करनी होगी। भ्रष्टाचार को नियंत्रित करना होगा। और लोगो की दुर्भावना को जड़ से खत्म करना होगा। सामान्य जनमानस को भी सतर्क रहकर संदिग्ध लोगो को चिन्हित कर शासन प्रशासन की मदद करनी होगी। प्रत्येक नागरिक को सेना के जवान की भांति अपनी सुरक्षा खुद सुनिश्चित करनी होगी।

चन्द्रपाल प्रजापति नोएडा

चन्द्रपाल प्रजापति नोएडा

 

It's only fair to share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn





Related News

  • रण हेतु संगठित हो जनमानस
  • हाडी रानी ‘सलह कंवर’ जिसने एक नया इतिहास रचा
  • हिन्दुत्व के लिए बलिदान हो गए बाल वीर हकीकत राय
  • ई रिक्शा चालकों पर आया रोजी रोटी का संकट और प्रशासन लापरवाह
  • मनोरंजन के नाम पर फिल्म रिलीज करना सही नहीं
  • जिग्नेश, उमर और जाति की ज्वाला
  • खुद में लाकर बदलाव होगा नूतन वर्ष खुशहाल
  • साल खत्म हो रहा है हम नहीं
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *