शादी का झांसा देकर सरकारी डॉक्टर ने युवती से किया बलात्कार

0

रायपुर : छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के एक सरकारी मेडिकल कॉलेज के रेजिडेंस डॉक्टर पर शादी का झांसा देकर एक युवती से बलात्कार करने का आरोप लगा है। बताया जा रहा है कि डॉक्टर आशीष मिरे ने पंडित जवाहर लाल नेहरू मेमोरियल मेडिकल कॉलेज की एक सोशल वर्कर से पहले दोस्ती की। फिर दोस्ती को परवान चढ़ाने के लिए शादी का झांसा दिया। इसके बाद दोनों मेडिकल कॉलेज के ही बॉयज हॉस्टल में रहने लगे। डॉक्टर और युवती के बीच मोहब्बत का यह सिलसिला दो साल तक चलता रहा। इस दौरान आशीष मिरे इस युवती को शादी का झांसा देता रहा और शारीरिक संबंध बनाता रहा। जब युवती ने शादी के लिए दबाव बनाने की कोशिश की, तो वह टालता रहा। शादी की तारीख बार-बार टालने से युवती का सब्र जवाब देने लगा। शादी के लिए तय तारीख बदलने से युवती को इस बात का अंदेशा होने लगा कि वह जिस डॉक्टर से प्यार करती है, वो उससे ऊब चुके हैं। वेलेंटाइन डे के हफ्ते पहले से डॉक्टर ने अपनी गर्लफ्रेंड से आंख चुराना भी शुरू कर दिया। इस बार युवती का वैलेंटाइन डे से ठीक पहले किस डे, हग डे, प्रॉमिस डे, टेडी डे, प्रपोज डे, चॉकलेट डे और रोज डे बेरुखी भरा बीता। इससे युवती का सब्र पूरी तरह से जवाब दे दिया। युवती का कहना है कि डॉक्टर आशीष मिरे ने उसका सिर्फ दिल ही नहीं तोडा है, बल्कि शारारिक संबंध बनाने के लिए उसके अरमानो का गला भी घोटा है। आखिरकर पीड़ित युवती ने डॉक्टर आशीष मिरे के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पीड़ित युवती की शिकायत पर रायपुर के मौदहापारा पुलिस स्टेशन में डॉक्टर आशीष मिरे के खिलाफ दफा 376 के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस के मुताबिक पीड़िता और डॉक्टर की दो साल पहले मुलाकात हुई थी। इस दौरान दोनों ने शादी करने का वादा किया था। तीन दिन पहले आरोपी डॉक्टर ने शादी से इंकार कर दिया, जबकि वो पीड़िता के साथ पति की तरह समय व्यतीत कर रहा था। बलात्कार का मामला दर्ज होने के बाद डॉक्टर मेडिकल कॉलेज से नदारद है। बताया जा रहा है कि गिरफ्तारी के भय से उन्होंने अस्पताल आना जाना छोड़ दिया है। फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश कर रही है।