Main Menu

विदेश मंत्री से गुहार लगाने के बाद भी नहीं हुई युवक की सऊदी अरब से वापसी

गीतांजलि पोस्ट……..(दिनेश सैनी) चुरू:- निकटवर्ती गांव राणासर के युवक राकेश कुमार जांगिड़ को सऊदी अरब से वापस भारत नहीं लाया जाने से उसके परिजन बहुत परेशान हैं। घर में चूल्हा जलना भी मुश्किल हो गया है। राकेश कुमार जांगिड़ पिछले ढाई साल से सड़क दुर्घटना के एक मामले में सऊदी अरब की आभा खमीस जेल में बंद है। वह एक चालक के रूप में कमाने के लिए विदेश गया था। वहां अप्रैल 2015 में उसके ट्रोले से एक  सड़क दुर्घटना होने से कार में सवार एक जने की मौत हो गई। पुलिस ने उसको गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। ट्रोला के मालिक ने उसकी कोई मदद व पैरवी आदि नहीं की। राकेश के भाई रोहिताश खाती ने बताया कि कलैक्टर से लेकर विदेश मंत्री तक को गुहार लगाने के बाद भी उसके भाई को देश वापस नहीं लाया गया है। राकेश के पत्नी बबिता व दो बच्चे हैं। पिता की बीमारी व सदमे से मौत हो चुकी है। बूढ़ी मां बीमार रहती है। घर में और कोई कमाने वाला नहीं है। उसका परिवार कर्जदार हो गया है। रोहिताश ने बताया कि उसने अपने भाई की रिहाई के लिए सांसद राहुल कस्वां को भी ज्ञापन देकर गुहार लगाई थी। ठाामीण विकास एवं पंचायतीराज मंत्री राजेन्द्र राठौड़ द्वारा भी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को गुहार लगाये जाने के बाद भी राकेश की रिहाई नहीं हुई है। यहां के प्रशासन की ओर से भी राकेश कुमार जांगिड़ के परिवार की  कोई सुध नहीं ली गई है। सरकार की ओर से गरीबों के लिए बनाई गई योजनाओं का भी लाभ नहीं मिल रहा है। कोई सामाजिक संगठन भी मदद करने के लिए अभी तक उसके घर तक नहीं पहुंचा है। राकेश का भाई रोहिताश भी विभिन्न अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों के चक्कर लगाकर थक चुका है। ऐसे में उसके परिवार की परेशानी दिनों-दिन बढ़ती ही जा रही हैं।






Related News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *