“ सीवाईएसएस “ का 7 दिवसीय “ रेप रोको “ मुहीम महारानी कॉलेज से शुरू

0
14

GEETANJALI POST

जयपुर. राज्य में बढती बलात्कार की घटनाओं को ध्यान में रखकर आप की छात्र यूनिट “ सीवाईएसएस “ ने प्रदेश की राजधानी में दिल्ली महिला आयोग की तर्ज पर जयपुर में भी “ रेप रोको “ मुहीम का 7 दिवसीय महाभियान छेड़ा है जिसमे सीवाईएसएस से जुडी छात्राएं विभिन्न छात्रा कालेजो में जाकर इस अभियान पर कार्य करेगी और मुहीम के तहत संयुक्त हस्ताक्षर महाभियान से छात्राओ को जोड़कर “ रेप रोको “ मुहीम को गति प्रदान करेगी. राजधानी जयपुर शहर में इस मुहीम का शुभारम्भ शनिवार को महारानी कॉलेज से किया गया. जिसमे छात्राओ को जोड़कर बलात्कार से पीड़ित महिलाओ, युवतियों और बच्चियों की परेशानियों से एवं इस पर बने कानून व्यवस्था पर छात्राओ को जागरूक किया गया.
सीवाईएसएस सदस्या नेहा गोयल ने बताया की आज प्रदेश ही नही पूरा देश महिलाओ पर बढ़ते अत्याचार और बलत्कार जेसी घिनोनी हरकतों का शिकार देश के असामाजिक तत्वों द्वारा हो रहा है, जिस पर केंद्र सरकार को पुरे देश में एक सामान कानून बना और कड़ी से कड़ी सजा का प्रावधान बना लागू करना चाहिए किन्तु अफ़सोस है की महिला सुरक्षा को लेकर केंद्र सरकार ने कोई कड़ा कानून अभी तक तेयार नही किया और मजबूरन महिला संगठनो को सडको पर उतर अपनी स्वयं की सुरक्षा के लिए आगे आना पढ़ रहा है. जिसकी शुरुवात दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाती मालीवाल ने दिल्ली प्रदेश में “ रेप रोको “ मुहीम के तहत की है जो इस मुहीम के तहत दिल्ली प्रदेश के प्रत्येक घर में जाकर संयुक्त हस्ताक्षर अभियान चला इस मुहीम से जोड़ेगी और “ रेप को रोकने “ का संकल्प दिलवाएगी. साथ ही स्वाति मालीवाल इस मुहीम के तहत दिल्ली की महिलाओ से समर्थन ले रही है की बलत्कार की शिकार महिलाओ और बच्चियों को जल्द से जल्द न्याय मिले को लेकर समर्थन भी मांग रही है जिसके तहत बलत्कार के मामले में कोर्ट में 6 महीनो में क़ानूनी प्रक्रिया संपन्न हो और दोषियों को फांसी की सजा का प्रावधान कर दिल्ली प्रदेश में केंद्र सरकार लागु करे. इसी के तहत यह मुहीम चलाई जा रही है.
सदस्या अंजली राठोड ने बताया की दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाती मालीवाल की इस मुहीम को आगे बढ़ाते हुए अब इसे राजस्थान प्रदेश में भी छात्र यूनिट सीवाईएसएस द्वारा लागु किया जा रहा है जिसकी प्रथम शुरुवात प्रदेश की राजधानी जयपुर शहर से की जा रही है और महारानी कॉलेज से शनिवार को यह अभियान प्रारम्भ कर दिया गया है, पहले दिन ही बड़ी संख्या में महारानी कालेजो की छात्राओ ने इस मुहीम में बढ़ चदकर भाग लिया और सभी छात्राओ में इस मुहीम का समर्थन किया, पूर्व में भी महिला सुरक्षा को लेकर राजस्थान सरकार को अवगत करवाया गया था और मांग की गई थी की बलत्कार पीडिताओ को जल्द से जल्द न्याय मिले और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले लेकिन राजस्थान सरकार महिला सुरक्षा को लेकर गंभीर होती नही दिख रही है, जिससे महिलाओ पर अत्याचार का का ग्राफ प्रदेश में लगातार बढ़ता जा रहा है, प्रदेश में भी महिला सुरक्षा कानून तय हो इसी मांग को लेकर और बलत्कार के आरोपियो पर क़ानूनी कार्यवाही 6 माह में कम्प्लीट की जाये साथ ही दोषियों को फांसी की सजा तय कर क़ानूनी प्रारूप बना इसे प्रदेश में जल्द से जल्द लागू किया जाये.
शनिवार को आयोजित “ रेप रोको “ मुहीम महारानी कॉलेज में चलाया गया जिसमे बड़ी संख्या में छात्राओ ने भाग लिया और इस मुहीम का समर्थन किया और इस मुहीम से जुड़ने का संकल्प लिया और अन्य छात्राओ को जोड़ने का भी संकल्प लिया, यह मुहीम महिला सुरक्षा को लेकर एक क्रांति लेकर आएगा और प्रदेश की महिला स्वयं एकजुट होकर इस मुहीम के माध्यम से प्रदेश में महिलाओ की सुरक्षा तय करवाएगी, सोमवार को इस अभियान का दूसरा दिन कनोडिया कॉलेज में लगाया जायेगा और छात्राओं के संयुक्त हस्ताक्षर करवाए जायेगे.