लगातार 7 रातों तक सोने से पहले करें गुड़ का सेवन, फिर देखिए कमाल

26

गीतांजलि पोस्ट ………. लेखराज चौहान, जयपुर

कहा जाता है कि खाने के बाद कुछ मीठा खाना हमारे शरीर की पाचन प्रक्रिया के लिए काफी अच्छा होता है, अगर आप खाने के बाद गुड़ का इस्तेमाल करते हैं फिर तो सोने पर सुहागा। लेकिन क्या आपको पता है कि अगर आप लगातार 7 रातों को सोने से पहले गुड़ का सेवन करते हैं, तो ये आपके शरीर के लिए कितना लाभदायक सिद्ध होता है।

त्वचा के लिए फायदेमंद-अगर आपको भी चमकदार स्किन की चाह है, तो आप भी लगातार 7 रातों तक सोने से पहले गुड़ का सेवन कीजिए, फिर देखिए आपकी त्वचा संबंधी सभी रोग दूर हो जाएंगे. गुड़ बॉडी से टॉक्सिन को बाहर निकाल देता है. जिससे स्किन चमकदार बनती है. स्किन रिलेटेड प्रॉब्लम भी दूर हो जाती हैं।

पेट की समस्याएं होगी दूर-रात को खाने के बाद गुड़ खाने से आपको कभी भी गैस और कब्ज की प्रॉब्लम नहीं होगी. अगर आपके साथ ये दिक्कतें हैं तो आज से ही रात को खाना शुरू करिए गुड़. गुड़ हमारे पाचन प्रक्रिया को सुचारू बनाता है. साथ ही गुड़ मासिक धर्म के वक्त महिलाओं के लिए भी काफी लाभदायक होता है  इसे खाने से पेट दर्द से भी आराम मिलता है।

एनर्जी लेवल बढ़ाता है-थकान भरी दिनचर्या के बाद अगर आप रोज आत को खाने के बाद दूध के साथ गुड़ लेते हैं, तो आपको अच्छा फील होगा और आपकी एनर्जी लेवल भी बढ़ेगी, यानी कि थकान या कमजोरी को दूर करने के लिए भी रात को गुड़ का सेवन करना एक अच्छा उपाए है।

माइग्रेन के लिए गुणकारी– गाय के घी के साथ गुड़ खाने से माइग्रेन और नॉर्मल सिर का दर्द दूर हो जाता है। सोने से पहले और सुबह खाली पेट 5 मिलीलीटर गाय के घी के साथ 10 ग्राम गुड़ एक दिन में दो बार खाएं. माइग्रेन और सिर दर्द में आराम मिलेगा।

याददाश्त बढ़ाने में कारगर-कुछ वैद्य चिकित्सकों की मानें तो 7 रातों तक रोजाना खाना खाने के बाद गुड़ का सेवन याददाश्त कमजोर होने पर भी फायदेमंद होता है। याददाश्त की कमजोरी को दूर करने के लिए आप चाहे तो हर रोज रात को गुड़ का सेवन कर सकते हैं।

एनिमिया में फायदेमंद-गुड़ में प्रचूर मात्रा में आयरन मौजूद होता है जो शरीर में आयरन की कमी को पूरा करता है। इसलिए जो एनिमिया के रोग से पीडि़त होते हैं,डॉक्टर भी उन्हें गुड़ खाने की सलाह जरूर देते हैं साथ ही इसमें कैल्शियम के साथ फास्फोरस भी होता है जो हड्डियों को मजबूत बनाता है। गर्म तासीर होने के कारण यह सर्दी, जुकाम और खास तौर से कफ से आपको राहत देने में मदद करेगा, इसके लिए दूध या चाय में गुड़ का प्रयोग किया जा सकता है, और आप इसका काढ़ा भी बनाकर ले सकते हैं।
जोड़ो के दर्द में- जोड़ों में दर्द की समस्या होने पर गुड़ का अदरक के साथ प्रयोग काफी लाभदायक सिद्ध होता है. प्रतिदिन गुड़ के एक टुकड़े के साथ अदरक खाने से जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है।

अस्थमा में फायदेमंद-अस्थमा के इलाज में गुड़ काफी लाभदायक होता है. गुड़ और काले तिल के लड्डू बनाकर खाने से सर्दी में अस्थमा की समस्या नहीं होती और शरीर में आवश्यक गर्मी बनी रहती है। गला बैठ जाने और आवाज जकड़ जाने की स्थिति में पके हुए चावल में गुड़ मिलाकर खाने से बैठा हुआ गला ठीक होता है एवं आवाज भी खुल जाती है।

कान में दर्द– कान में दर्द होने पर गुड़ को घी के साथ मिलाकर खाने से कान में होने वाले दर्द की समस्या ये निजात मिलती है।