किसान हितैषी सरकार ने हल्का किया भूमिपुत्रों के सिर का बोझ-बाबूलाल वर्मा

0
20

अब तक 3618 किसानों को मिली कर्ज से माफ
(ब्यूरो चीफ,कोटा
राज्य सरकार की फसली ऋण माफी योजना धरतीपुत्रों को सम्बल देते हुए भूरि-भूरि प्रशंसा पा रही है। अब तक योजनान्तर्गत 3 हजार 618 किसान फसली ऋण के बोझ को कम कर या ऋण मुक्त होकर राहत पा चुके हैं। बुधवार को केबिनेट मंत्री श्री बाबूलाल वर्मा ने देही खेडा में ऋण माफी शिविर में शिरकत कर किसानों को ऋण मुक्ति का उपहार दिया। इस अवसर पर खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री वर्मा ने कहा कि राज्य की किसान हितैषी सरकार ने किसानों का दर्द महसूस करते हुए प्राथमिकता के साथ यह बडा कार्य हाथ में लिया है और उनके ही क्षेत्रों में जाकर शिविरों के माध्यम से ऋण माफी का प्रमाणपत्र देते हुए उनके सिर से कर्जे का बोझ हटाया है।
श्री वर्मा ने कहा कि राज्य सरकार की हर योजना जन कल्याण की भावना को केन्द्र में रखकर बनाई गई है। इसी का परिणाम है कि कल्याणकारी योजनाओं से बडी संख्या में लोग लाभान्वित हो रहे हैं और प्रदेश खुशहाली के साथ विकास की राह पर बढ रहा है। जुलाई से विद्यालयों में पोषाहार में दूध षामिल करना सरकार की अनूठी पहल बनेगी। बच्चों के विकास और पोषण आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए सरकार ने यह बडा कदम उठाया है। अन्नपूर्णा रसोई से गरीब तबके को सस्ता और गुणवत्ता का भोजन सुलभ हुआ है। पोस से राशन वितरण व्यवस्था ने गरीबों को उनके हिस्से के अनाज की पहुंच सुनिश्चित कराई है। श्री वर्मा ने इस शिविर में 322 किसानों को ऋण माफी की सौगात दी।