बदहाली और सरकारी अव्यवस्था का शिकार प्रताप की प्रतिमा

0
86

गीतांजलि पोस्ट…
प्रताप नगर , महाराणा प्रताप (एन आर आई) सर्किल पर लगी महाराणा प्रताप की प्रतिमा बदहाली और सरकारी अव्यवस्था का शिकार …

जयपुर 16 जून, शनिवार को महाराणा प्रताप की जयेष्ठ शुक्ल, तृतीया को जनम तिथि पर मनाई जारही 478 वीं जयंती मनाने पहुंचे सांगानेर पत्रकार संघ और जयपुर शिवसेना के कार्यकर्ता उस समय सकते में आ गये जब इस वीर पुरुष की प्रतिमा की बेकद्री और बदहाली देखी। जहां महाराणा प्रताप के हाथ में भाला नहीं था चेतक के दांया पैर का घुटना तड़क कर जीर्ण अवस्था को पहुँच चूका है, चारों तरफ लगाईं हुई मर्करी लाइट और बॉक्स क्षतिग्रस्त हुए पड़े थे जो अब कचरा पात्र बन चुके है, चारो तरफ बन चुकी फूलों की क्यारी अब पानी के अभाव में सूख कर उजड़ चुकी है, साथ ही फूलों और पौधों के गमले नदारद है। प्रतिमा के लिये बनाये गए सतम्भ (पिलर) पर चारों तरफ पोस्टर लगाकर बदरंग बना दिए गए है । सर्किल के पास निर्माधीन सड़क का काम चल रहा है जिसके सीमेंट के खाली कट्टे अंदर बिखरे पड़े थे। दुःख इस बात का है की एन आर आई और तक्षक जैसी वी आई पी कॉलोनी होने और मुख्य सड़क मार्ग होने से तथा तीन चार वर्षों से कई करोड़ों की लागत से बन रही निर्माणाधीन सड़क का निरीक्षण करने दिन भर नगर निगम और आवासन मंडल के उच्चाधिकारियों के दिन भर दौरे लगते रहने के बावजूद इस वीर शिरोमणि की खंडित प्रतिमा और बदहाली की तरफ अधिकारीयो द्वारा अनभिज्ञ होकर मुहफेर कर निकल जाना अति दुर्भाग्य और खेदपूर्ण होने के साथ साथ इस वीर सपूत का अपमान भी है। जो जिंदगी भर दुश्मनो के दांत खट्टे करके इस देश की रक्षा की आज वो खुद सरकारी अव्यवस्था की प्रतीमा बना चोराहे पर खड़ा है…..?
भूपेन्द्र सोनी(दिव्य ज्वाल)