ऋणदात्री समितियों के कार्यों में लाया जाएगा विविधिकरण-सहकारिता मंत्री

0
297

जयपुर। सहकारिता मंत्री श्री अजय सिंह किलक ने कहा है कि प्राथमिक कृषि ऋणदात्री समितियों के कार्यों में विविधिकरण लाते हुए सक्षम समितियों को एजेन्सी दिला कर पेट्रोल पंप, गैस वितरण जैसी सुविधाएं गांवों-कस्बों में शुरु की जाएगी। उन्होंने कहा कि किसानों के हित में बड़ा निर्णय करते हुए कृषि वाहन व उपकरण उत्पादकों से सीधा समन्वय बनाते हुए सहकारी समितियों से वितरित कर बिचौलियों के शोषण से बचाया जाएगा। सहकारिता मंत्री श्री किलक आज अपेक्स बैंक परिसर में 94 वें अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस व 22 वें यूएन डे ऑफ को-आपरेटिव्ज के अवसर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने सहकारिता सचिव श्री अभय कुमार व रजिस्ट्रार डॉ. रेखा गुप्ता के साथ साथ सहकार ध्वजारोहण, वृक्षारोपण, इफको, जयपुर सीसीबी प्रायोजित एसएसजी व उपभोक्ता संघ द्वारा प्रदर्शित उत्पादों का अवलोकन व रक्तदान शिविर का शुभारंभ किया।किलक ने कहा कि हमारी सरकार ने ब्याजमुक्त फसली सहकारी ऋण वितरण के साथ ही भूमि विकास बैंकों के कृषि निवेश ऋणों पर 5 प्रतिशत और सीसीबी के सहकार किसान कल्याण ऋण योजना में 2 प्रतिशत ब्याज अनुदान देना शुरु किया है। सहकारी-सामाजिक सरोकार के नाते ऋणी सदस्यों को 27 रुपए में 5 लाख रु. का बीमा लाभ दिया जा रहा है जिसे चरणवद्ध तरीके से 10 लाख रु. तक कराने की हमारी सोच और प्राथमिकता है। उन्होंने बताया कि इस वर्ष 25 लाख काश्तकारों को ब्याजमुक्त फसली ऋण सुविधा का लाभ दिया जाएगा। सहकारिता मंत्री श्री किलक ने कहा कि सहकारी व्यवस्था को साफ सुथरी व पारदर्शी बनाना हमारी प्राथमिकता है।