साइकिल से पहुंचे मंत्री पद का शपथ लेने मनसुख मांडविया

1
60

नई दिल्ली,  गुजरात से राज्यसभा सांसद मनसुख एल. मांडविया नरेंद्र मोदी सरकार के मंत्री के तौर पर शपथ लेने राष्ट्रपति भवन पहुंचे। उन्होंने विशंभर दास मार्ग स्थित स्वर्ण जयंती सदन के अपने आवास से राष्ट्रपति भवन साइकिल पर सवार होकर पहुंचे। इस अनूठी पहल के बारे में उन्होंने बताया कि ऐसा वे इसलिए कर रहे हैं ताकि लोगों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता बढ़े और न सिर्फ आम लोग बल्कि खास कहे जाने वाले लोग भी ऐसी जीवनशैली अपनाएं जो पर्यावरण के अनुकूल हो।

साइकिल से शपथ लेने जाने के बारे में उन्होंने कहा, ‘साइकिल न तो मेरे लिए फैशन का विषय है और न ही यह मेरी मजबूरी है। बल्कि साइकिल मेरा पैशन है।’ यह पूछे जाने पर कि क्या वे मंत्रालय से संबंधित सभी यात्राओं में साइकिल का ही इस्तेमाल करेंगे, उन्होंने कहा, ‘यह काम की प्रकृति पर निर्भर करेगा। जहां साइकिल का इस्तेमाल कर सकते हैं, वहां करेंगे. लेकिन अगर कहीं गाड़ी से जाने से काम में तेजी आती हो तो मुझे उससे भी परहेज नहीं है।’

मनसुख मांडविया ने कहा, ‘पर्यावरण की बिगड़ती सेहत को लेकर पूरे विश्व में चिंता की लहर है. हर तरफ पर्यावरण के अनुकूल जीवनशैली अपनाने की बात हो रही है। हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी अक्सर अपने संबोधनों में इस तरह की अपील लोगों से करते रहते हैं। ऐसे में यह वक्त की जरूरत है कि प्रकृति की सेहत को सुधारने के लिए हम सिर्फ साइकिल ही नहीं बल्कि वैसी दूसरी चीजों को भी अपनाएं जिससे पर्यावरण का संतुलन बनाए रखने में मदद मिले।’

गुजरात भाजपा के महासचिव मांडविया ने अपनी नई जिम्मेदारी के बारे में कहा, ‘यह मेरा सौभाग्य है कि मुझे नरेंद्र मोदी जैसे दूरदर्शी और प्रेरक नेता के नेतृत्व में देश की सेवा करने का मौका मिला है। उनके नेतृत्व में जिस तरह के सामाजिक,आर्थिक और राजनीतिक बदलाव की बयार बही है, हम उसे अपने सामथ्र्य के मुताबिक आगे बढ़ाने की दिशा में काम करेंगे।’

मंत्री पद की शपथ लेने जाने से पहले उन्होंने बताया कि तकरीबन दो साल पहले उन्होंने भाजपा के ही एक और राज्यसभा सदस्य अर्जुन मेघवाल के साथ मिलकर पर्यावरण सांसद क्लब की शुरुआत की थी।अब इस क्लब में 22 सांसद हैं. एक रोचक बात यह है कि मोदी सरकार के इस मंत्रिमंडल विस्तार में इस क्लब के चार सदस्य मंत्री बने हैं। इनमें एक तो मनसुख मांडविया हैं और उनके अलावा अर्जुन मेघवाल, कृष्णा राज और अनिल माधव दवे भी मंत्री बने हैं. मनसुख मांडविया ने कहा कि वे उम्मीद करते हैं कि आने वाले दिनों में और भी सांसद उनकी पहल के साथ जुड़ेंगे।