अनाधिकृत लोग कर रहे है लाल बत्ती का दुरूपयोग

0
144
– वीआईपी ट्रीटमेंट की फेर में कर रहे लाल बत्ती और हूटर का उपयोग
– अपराधी भी उठा सकते है इसका फायदा

– शाहपुरा पुलिस की तीन कार्रवाई

शाहपुरा। (सांवर मल तक्षक) दूसरो पर रौब गांठने और विभिन्न स्थानों पर पुलिसिया जांच से बचने के लिए अनाधिकृत लोग लाल बत्ती का उपयोग कर रहे है ।

गौरतलब है कि लाल बत्ती की कार पर कार्रवाई करने से पुलिस और परिवहन विभाग के कर्मी भी हिचकते है। इसी का फायदा उठाकर अनाधिकृत लोग लग्जरी कारों पर लाल बत्ती व हूटर लगाकर घूम रहे है।

आप पार्टी का विधायक बताने वाला
आप पार्टी का विधायक बताने वाला

इसकी बानगी शाहपुरा थाना इलाके में देखने को मिली, जंहा शाहपुरा पुलिस ने एक ही माह में अलग-अलग तीन कार्रवाई कर फ़र्ज़ी तरीके से लाल बत्ती लगाकर घूम रहे व्यक्तियों को पकड़ा। इनमे एक जने ने तो स्वयं को आप पार्टी का विधायक तो दूसरे मामले में गृहमंत्री राजनाथ सिंह का पीए तक बता दिया था। हालांकि बाद में पूछताछ में दोनों ही मामलो में आरोपित वीआईपी न होकर मामूली कार्यकर्ता निकले। सूत्रों की मानें तो विभिन्न राजनैतिक दलों के कार्यकर्ता अपनी कारों पर लाल बत्ती, हूटर और पार्टी के अध्यक्ष लिखी नेम प्लेट लगाकर घूमते है! इनमे विशेषकर दूसरे राज्य हरियाणा और दिल्ली नंबर की गाड़ियां है! लाल बत्ती लगाकर घूमने के पीछे उनकी मंशा विभिन्न स्थानों पर लगने वाले टोल टैक्स से छूट मिलने, पुलिसिया जांच से बचना और वीआईपी ट्रीटमेंट मिलना है! लाल बत्ती लगी होने के कारण पुलिस और परिवहन विभाग के अधिकारी भी इनकी जाँच करने से हिचकते है और दबे स्वर में यह भी स्वीकार करते है कि क्या पता जिस गाड़ी को उन्होंने रुकवाई और उसमे कोई वीआईपी बैठा हो! ऐसे में वह वीआईपी नाराज़ न हो जाये! लाल बत्ती की कारों की जांच नहीं होने से कई बार आपराधिक प्रवर्ति के लोग भी इसका फायदा उठाते है! शाहपुरा थाना इलाके में पूर्व में अपराधियों ने राजमार्ग पर लाल व नीली बत्ती लगी कारों का उपयोग कर लूट की वारदातों को अंजाम दिया था! लाल बत्ती के दुरूपयोग के पीछे कठोर सजा नहीं होना भी है! जानकारी के अनुसार ऐसे मामलों में पकडे जाने पर पुलिस जुर्माना लगाकर आरोपित को छोड़ देती है! विधिक सूत्रों की माने तो ऐसे मामलों में पकडे जाने पर पुलिस को धारा 420 के तहत कार्रवाई करनी चाहिए! भले ही परिवहन विभाग और पुलिस समय समय पर इनके खिलाफ कार्रवाई करने के दावे करते हों, लेकिन हकीकत तो यही है कि राजमार्ग से गुजरने वाले अनाधिकृत लोग लाल बत्ती का उपयोग कर कानून को ठेंगा दिखा रहे है!

अनाधिकृत रूप से लाल बत्ती लगी दिल्ली नम्बर की लग्जरी कार को पकड़ा
अनाधिकृत रूप से लाल बत्ती लगी दिल्ली नम्बर की लग्जरी कार को पकड़ा

एक माह में तीन कार्रवाई

जानकारी के अनुसार पूरे प्रदेश में शाहपुरा थाना पुलिस की यह एक मात्र कार्रवाई है, जिसमें शाहपुरा थाना पुलिस ने एक माह में लाल बत्ती लगी कारों के खिलाफ तीन कार्रवाई की है! सब इंपेक्टर राजेश कुमार ने बताया कि शाहपुरा थाना पुलिस ने को फ़र्ज़ी तरीके से लाल बत्ती लगाकर स्वयं को आप पार्टी का विधायक बताने वाले को पकड़ा था! इसके बाद को शाहपुरा पुलिस ने फ़र्ज़ी तरीके से लाल बत्ती लगी दिल्ली नम्बर की लग्जरी कार को जब्त किया था! इसके बाद 13 अगस्त को पुलिस ने बीजेपी पार्टी के कार्यकर्ताओं को भी अनाधिकृत रूप से लाल बत्ती लगाकर कोटपूतली में किसी वाहन चालक से मारपीट कर भागते समय शाहपुरा में पकड़ा था!

इनका कहना है

  • विजय सिंह, डीएसपी, शाहपुरा पूर्व में लाल बत्ती की कार का उपयोग कर बदमाशों ने लूट की घटना को अंजाम दिया था! इसके बाद पुलिस ने लाल बत्ती की कारो की भी जाँच शुरू की है! इसीका परिणाम है कि शाहपुरा पुलिस ने एक माह में तीन कार्रवाई करते हुए फ़र्ज़ी तरीके से लाल बत्ती लगाकर घूम रहे लोगों को पकड़ा है!
  • शाहपुरा थाना प्रभारी हरिपाल सिंह राठौड़ ने बताया राजमार्ग पर दिल्ली व हरियाणा राज्य से अपनी गाड़ियों पर फर्जी तरीके से लाल बत्ती लगाकर घूम रहे लोगो के खिलाफ अभियान चला रखा है जिसका परिणाम है की शाहपुरा पुलिस ने एक माह में तीन कार्रवाई करते हुए एक माह में फ़र्ज़ी तरीके से लाल बत्ती लगाकर घूम रहे लोगों को पकड़ा है!
  • शाहपुरा बार एसोशिएसन के एडवोकेट के के टांक ने बताया फ़र्ज़ी तरीके से लाल बत्ती लगाकर घूमने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस को अभियान चलाना चाहिए! और उनके खिलाफ 420 के तहत मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करनी चाहिए!