मुजफ्फरनगर, दादरी व मथुरा सपा सरकार की देन

0
21

लखनऊ।(का.स.) यूपी की राजधानी लखनऊ में आयोजित रैली में बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रदेश की सपा सरकार को जमकर घेरा। उन्होंने सपा सरकार की विकास को योजनाओं को बसपा की देन तो बताया ही साथ ही यह भी कहा कि मुजफ्फरनगर दंगे, दादरी व बुलंदशहर में रेप की घटना सपा सरकार की ही देन है।उन्होंने कहा कि प्रदेश की वर्तमान सरकार में गुंडागर्दी चरम पर है, सांप्रदायिक वारदातें हो रही हैं लेकिन सरकार उन योजनाओं के प्रचार प्रसार में धन खर्च कर रही है जो कि बसपा सरकार में शुरू करवाई गई थीं।मायावती ने कहा कि लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे, लखनऊ मेट्रो के लिए सबसे पहले प्रयास बसपा ने ही शुरू किया था। उन्होंने केंद्र की भाजपा सरकार पर भी निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनाव प्रचार के दौरान जो वादे किए थे। उन्हें अभी तक पूरा नहीं किया है।

प्राइवेट सेक्टर को बढ़ावा देकर आरक्षण खत्म करना चाहते हैं भाजपा

मायावती ने भाजपा पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा देश में प्राइवेट सेक्टर को बढ़ावा देकर आरक्षण को खत्म करना चाहती है। उन्होंने कहा कि अभी तक तो गौहत्या के नाम पर मुस्लिमों का ही उत्पीड़न किया जाता था पर अब भाजपा दलितों को भी निशाना बना रही है। रोहित वेमुला कांड, गुजरात के ऊना में दलितों की पिटाई व हरियाणा का मेवात कांड इसका उदाहरण हैं। उन्होंने भाजपा को दलित विरोधी मानसिकता से ग्रस्त बताया। मायावती ने कहा कि दलितों पर हो रहे अत्याचार पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अफसोस जाहिर करना मात्र एक दिखावा है। दलित सहानुभूति नहीं बल्कि अत्याचार करने वालों के खिलाफ कार्रवाई चाहते हैं। उन्होंने कहा कि जब से भाजपा की सरकार बनी है तब से मुस्लिमों पर अत्याचार बढ़ गए हैं।वहीं, कांग्रेस पर भी निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र में लंबे समय तक सत्ता में रहने के बावजूद कांग्रेस ने दलितों की उपेक्षा की।