मोदी के मन से नहीं, संविधान से चलेगा देश-शंकराचार्य

0
26
  • नोटबंदी से हुई मौतों के लिए पीएम मोदी को श्राप लगेगा: शंकराचार्य
  • शंकराचार्य ने नोटबैन को बताया नरेंद्र मोदी का तानाशाही फैसला।

मध्य प्रदेश। नोटबंदी के बाद जनता को हो रही परेशानी के लिए शंकराचार्य स्वरुपानंद सरस्वती ने प्रधानमंत्री मोदी की तीखी आलोचना की है। उन्होंने इसके लिए पीएम मोदी को श्राप तक लगने की बात कह दी।
8 नवंबर को पीएम मोदी के 1000 और 500 के नोटबैन के फैसले का विरोध करने वालों में द्वारका-शारदा पीठ के शंकराचार्य स्वरुपानंद सरस्वती भी शामिल हो गए हैं। उन्होंने कहा कि ये फैसला एकदम घटिया है।
करेंसी बैन को लेकर नरेंद्र मोदी के लिए शंकराचार्य ने कहा कि इस फैसले ने जनता को हलकान कर दिया है। इस फैसले की वजह से देशभर में लोगों की मौतें हुई हैं जिनका पाप नरेंद्र मोदी को लगेगा।
किसी भी मुद्दे पर मुखर होकर अपनी बात रखने के लिए पहचाने जाने वाले शंकराचार्य स्वरुपानंद ने कहा कि जो मोदी ने किया वो एक सेवक का काम नहीं है, उनका फैसला तानाशाही है।
मोदी के मन से नहीं, संविधान से चलेगा देश
शंकराचार्य ने कहा कि मोदी खुद ही सारे फैसले ले रहे हैं, ऐसा लगता है कि वो अपने को कानून से ऊपर समझते हैं। शंकराचार्य ने कहा कि देश में सबसे ऊपर संविधान है और देश संविधान से ही चलेगा।