कल इतिहास रचेगा ISRO, रिकॉर्ड 104 उपग्रह छोड़ेगा

0
26

 भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के लिए 15 फरवरी का दिन बहुत अहम है, क्योंकि इस दिन श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से रिकॉर्ड 104 उपग्रह छोड़कर इतिहास रचेगा. ISRO के अधिकारी ने कहा, ‘हमने अंतरिम रूप से पृथ्वी से करीब 500 किमी ऊपर सूर्य-समकालिक (सन-सिंक्रोनस) कक्षा में सुबह करीब नौ बजे उपग्रहों को छोड़ने का फैसला किया है. यह घटना देश को गौरव दिलाने वाली होगी.

गौरतलब है कि उपग्रहों में तीन भारतीय, 88 अमेरिकी और शेष इजरायल, कजाखिस्तान, नीदरलैंड्स, स्विट्जरलैंड और संयुक्त अरब अमीरात से हैं. अधिकारी के अनुसार उपग्रहों का प्रक्षेपण पीएसएलवी-सी37 (PSLV-C37) से किया जाएगा. उपग्रहों का संयुक्त भार 1,500 किग्रा होगा. इसमें 650 किग्रा का रिमोट-सेंसिंग काटरेसेट-2 और 15-15 किग्रा के दो छोटे उपग्रह IA और IB शामिल हैं.
स्मरण रहे कि भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसके पूर्व 22 जून, 2016 को एक बार में 20 उपग्रह छोड़ चुकी है. एक साथ 104 उपग्रह छोड़कर ISRO 2014 में एक साथ 37 उपग्रह छोड़ने के रूस के रिकॉर्ड को और 2013 में 29 उपग्रह एक साथ छोड़ने के अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी NASA के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ देगा.