हाई अलर्टः मुंबई, चेन्नई, हैदराबाद एयरपोर्ट पर विमान हाइजैक करने की मिली धमकी

0
29

नई दिल्ली, मुंबई, चेन्नै और हैदराबाद से उड़ान भरने वाली फ्लाइट्स को एक साथ हाइजैक करने की साजिश से जुड़ी खुफिया सूचना मिलने के बाद सुरक्षा एजेंसियां हाई अलर्ट पर हैं। अलर्ट विमान हाइजैक की धमकी मिलने के बाद जारी किया गया, जिसके चलते तीनों एयरपोर्ट्स की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। सुरक्षा एजेंसी से मिली जानकारी के अनुसार, आतंकी मुंबई, चेन्नई या हैदराबाद से किसी प्लेन को हाईजैक कर सकते हैं। पुलिस ने सुरक्षा में ढिलाई न रखते हुए मुंबई एयरपोर्ट की घेराबंदी कर ली है और आने जाने वालों की जांच कड़ी कर दी गई है। मीडिया सूत्रों के मुताबिक, मुंबई पुलिस को एक ईमेल मिला है, जिसमें लिखा है कि उन्‍होंने कुछ लोगों को ये बात करते हुए सुना है कि वे मुंबई, चेन्‍नई और हैदराबाद एयरपोर्ट से एक विमान को हाईजैक करने की योजना बना रहे थे।

सुरक्षा अधिकारियों को जो जानकारी मिली है, उसके मुताबिक, प्लेन को अगवा करने की इस योजना में 23 लोगों की एक टीम शामिल है। सूचना मिलते ही इन तीन समेत देश के सभी अहम हवाई अड्डों की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। ऐसे में इन तीन हवाई अड्डों से उड़ान भरने वाले यात्री पर्याप्त वक्त रहते चेक-इन करके आखिरी वक्त में होने वाली देरी से बच सकते हैं। इस खतरे की भनक लगते ही एयरपोर्ट सिक्यॉरिटी कॉर्डिनेशन कमिटी की एक बैठक शनिवार को हुई। दरअसल, एक महिला ने सुरक्षा अधिकारियों को एक ईमेल भेजा था। सूत्र के मुताबिक, महिला ने बताया कि उन्होंने छह लड़कों को मुंबई, चेन्नै और हैदराबाद एयरपोर्ट से एक साथ हाइजैकिंग को अंजाम देने की योजना बनाते सुना। महिला के मुताबिक, इस काम में कुल 23 लोग शामिल होने वाले हैं और इसे रविवार को ही अंजाम दिया जाना है।

हवाई अड्डों की हिफाजत का जिम्मा उठाने वाले सीआईएसएफ के डीजी ओपी सिंह ने पुष्टि की है कि इन तीन एयरपोर्ट की सुरक्षा हाई अलर्ट पर है। उन्होंने कहा, ‘सुरक्षा को लेकर कई अहम कदम उठाए गए हैं। गश्त से लेकर एंट्री-एग्जिट पॉइंट पर सुरक्षा बढ़ा दी है। सुरक्षाबलों की तादाद में इजाफा किया गया है। ‘वहीं, एयरपोर्ट के सुरक्षा अधिकारियों ने शहर की पुलिस और अन्य बलों से भी संपर्क किया है। बता दें कि मुंबई में पहले से ही काउंटर टेररिजम कंटिजेंसी प्लान एक्टिव है, लेकिन हैदराबाद और चेन्नै में इसे लागू करने की तैयारियां चल रही हैं। एयरपोर्ट्स पर पेट्रोलिंग को मजबूत किया गया है। एजेंसियां भी पुलिस के साथ मिलकर काम कर रही हैं।