प्रधानमंत्री ने अस्पताल के उद्घाटन के बाद शुभकामना की बजाय दिया ‘श्राप’

127
74

सूरत। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज यहां करीब 500 करोड रूपये की लागत से बने एक निजी अस्पताल के उद्घाटन के बाद अपने खास मजाकिया लहजे में कहा कि वह इस अवसर पर शुभकामना देने की बजाय ‘श्राप’ देना पसंद करेंगे।
उन्होंने कहा कि अस्पताल ऐसी जगह होती है जिसके फलने फूलने की शुभकामना नहीं दी जा सकती। उन्होंने कहा कि वह अगर किसी हीरे की कंपनी या ऐसी किसी चीज का उद्घाटन कर रहे होते तो उसे फलने फूलने की शुभकामना देता पर एक अस्पताल ऐसी जगह नहीं हाेती जिसके बारे में ऐसा किया जा सके। इसलिए मै श्राप देता हूं कि यहां किसी को भी आने की जरूरत ना पडे। और अगर कोई मरीज यहां आ भी जाएं तो एक बार में ही इतना अच्छा इलाज हो जाए ताकि उसे दुबारा यहां नहीं आना पडे।