जल्द ही प्राइवेट ट्रेन भी दौड़ती नजर आएगी

0
24

भोपाल। मध्यप्रदेश में जल्द ही प्राइवेट ट्रेन भी दौड़ती नजर आएगी। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने इस बात के संकेत दिए हैं। रेलवे इसके लिए इंदौर, भोपाल और जबलपुर के बीच इसे चलाएगा। इसके लिए 450 किलोमीटर का नया रूट तैयार किया जाएगा। माना जा रहा है कि निजी क्षेत्र की कंपनियों टाटा, बिड़ला, रिलायंस और अडाणी जैसी कंपनियां भी इस क्षेत्र में कूद सकती है। यह मध्यप्रदेश की पहली निजी ट्रेन होगी।

सूत्रों के मुताबिक पश्चिम मध्य रेलवे और राज्य सरकार का एक ज्वाइंट वेंचर इस प्रोजेक्ट पर काम करेगा। प्रोजेक्ट एक कंपनी बनाकर रन किया जाएगा। इसका नाम स्पेशल परपज व्हीकल (SPV) होगा। गौरतलब है कि इससे पहले सितंबर 2016 में भी निजी क्षेत्र की कंपनियों से प्रस्ताव मांगे गए थे।

SPV ट्रेक बिछाने, निजी क्षेत्रों को ट्रेनें चलाने के लिए पैसा जुटाने समेत मेंटेनेंस आदि जिम्मेदारी भी निभाएगी। पहली ट्रेन इंदौर-जबलपुर चलाने की है। यह कंपनी इसके लिए दोनों शहरों को जोड़ने के लिए 450 किलोमीटर का ट्रेक भी बिछाएगी। इसके लिए चार हजार 600 करोड़ का खर्च भी आंका गया है।