कृष्ण जन्म पर झमकर झुमे श्रोता…

0
32

महायज्ञ में इक्यावन लाख गौ मंत्रो का जाप पुर्ण !

चिराना (सौरभ पारीक) तीर्थराज लोहार्गल धाम में चल रहे 108 कुंडिय गौ पुष्टी महायज्ञ के पांचवे दिन करीब इक्यावन लाख मंत्रो का अनुष्ठान पुर्ण हो चुका है !
इस दोरान चल रही भागवद कथा मे कथा वाचक सुदर्शन दास महाराज द्वारा कृष्ण जन्म के साथ प्रहलाद भक्त व्रतासुर की कथा,गजैन्द्र मौक्ष,वामन अवतार की कथा का रसपान करवाया जिस दौरान कृष्ण जन्म होने पर संगीतमय बधाई पर सभी श्रोता खडे होकर झूमने लगे ! कथावाचक ने वामन अवतार की कथा का उल्लेख करते हुए बताया की दान सबसे बडा धर्म है ! दान कभी छोटा अथवा बडा नही होता !
यज्ञाचार्य प.चिरंजीव शास्त्री ने बताया की अब तक महायज्ञ मे लगभग इक्यावन लाख मंत्रो का अनुष्ठान पुर्ण हो चुका है ! भगत सांवता राम ने बताया की इस महायज्ञ से समस्त देवता प्रसन्न होंगे व इस क्षेत्र मे आने वाली प्रत्येक पिडाए टलेंगी व गौमाता का कल्याण होगा ! वही रात्री रासलिला मे भी भगवान श्री कृष्ण की रोचक लिलाओं का मंचन किया गया !इस दोरान चिकित्सा व्यवस्था आदी की समुचित व्यवस्थाओ के साथ चिराना सीएचसी का स्टाफ महायज्ञ मे पुर्ण सेवा प्रदान करते नजर आया | साथ ही गजराज गुर्जर,सुल्तान गुर्जर,सोहन लाल,बजरंगलाल,बिरबल सैनी,कैलाश सैनी,मनफूल, आदी सहित यज्ञ समिती के समस्त कार्यकर्ताओं ने सेवाए प्रदान की ।