झूठे वादे करने वाली भाजपा सरकार को चुनाव में सबक सिखाने का इंतजार कर रहा है आमजन 

0
छोटी-छोटी मूलभूत सुविधाओं से तरस रही कोटा शहर की जनता -धारीवाल
डॉ.प्रभात कुमार सिंघल,कोटा। पूर्व मंत्री शांति धारीवाल ने कहा पिछले विधानसभा चुनाव में कोटा वासियों से बीजेपी ने जिस तरह के विकास दावे किए थे, वह आज विकास ओर क्षेत्र के डवलपमेंट से परे है। विकास की जगह लोग नाली पटान जैसी छोटी-छोटी मूलभूत सुख सुविधाओं के लिए तरस रहे है। शहरवासी पिछली गहलोत सरकार के शासन को याद कर रहे हैं।
              कोटा शहर का हर आमजन कांग्रेस की पिछली सरकार के समय हुए अभूतपूर्व विकास की दुहाई देते हुए बस आगामी विधानसभा चुनाव का इंतजार कर रहा है। ताकि कब चुनाव हो और वह भाजपा की उनसे झूठे वादे करने वाली सरकार को विदा करे। शुक्रवार को पूर्व स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने स्टेशन क्षेत्र के वार्ड 12 के बूथ संजयनगर, तेलघर, नेहरू नगर व मस्जिद गली के कांग्रेस कार्यकर्ताओं की चुनाव तैयारी की बैठक में बोल रहे थे।
सामंतशाही सरकार,चारों तरफ भ्रस्टाचार
               पूर्व मंत्री धारीवाल ने इस मौके पर वर्तमान भाजपा सरकार को जिन विरोधी बताया। और कहा कि कोटा शहर ही नहीं बल्कि पूरा प्रदेश सामंतशाही सरकार से तंग आ चुका है। इस सरकार में मुख्यमंत्री के सामने पूरा मंत्रीमंडल नतमस्तक रहा। आमजन की कई कोई सुनवाई नहीं हुई। महंगाई, भ्रष्ट्राचार व अपराधियों का बोलबाला रहा। युवा पूरे पांच साल अपनी डिग्रियां लेकर घूमते रहे लेकिन कहीं उन्हें रोजगार नहीं मिला। किसानों को फसलों का मुनाफा छोड लागत का मूल्य तक नहीं मिला और दर्जनों किसानों ने मौत को गले लगा लिया।
        पूर्व मंत्री ने बूथ स्तर की इस चुनाव तैयारी बैठक में मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पिछली गहलोत सरकार के विकास कार्यो को घर-घर तक पहुंचाने का आव्हान करते हुए आगामी विधानसभा चुनाव में अभी से पूरी ताकत के साथ जुट जाने को कहा। धारीवाल ने कहा आमजन कांग्रेस सरकार बनने का इंतजार कर रही है। चूंकि कांग्रेस देश व प्रदेश और सहित एक-एक व्यक्ति के विकास का भरोसा है। ऐसे में पिछले पांच साल से कोटा शहर में ठप्प पडे विकास कार्यो को कांग्रेस फिर से सत्ता में आकर वापस उन्हें गति देगी। ताकि कोटा शहर के हर नागरीक को उसकी पंसद की बुनियादी सुख सुविधाए मिल सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here