अतिक्रमण हटाने के दौरान आगजनी,पत्रकार घायल

0
28
डॉ.प्रभात कुमार सिंघल,कोटा
धायल पत्रकार हाबु लाल शर्मा

रावतभाटा रोड स्तिथ न्यास की मुकुंदरा विस्तार योजना के आसपास  प्रभावशाली व्यक्तियों द्वारा यूआईटी की बहुत ही कीमती जमीन पर कब्जा कर लेना और उन पर मकान बनवा देना उस वे कीमती जमीन को आज हटाने गए यूआईटी के दस्ते पर अतिक्रमण कर्मियों ने इतना नैतिक साहस दिखाया कि उनके साथ मारपीट ही नहीं की अपितु यूआईटी के वाहनों को आग के हवाले कर दिया।

       गुंडों के हौसले राजनेताओं के साए में इतने बुलंद थे कि उन्होंने मीडिया कर्मियों को भी लहूलुहान कर दिया सिर फाड़  दिए हाथ तोड़ दिया कोटा के इतिहास में पहली बार ऐसी भीषण अराजकता वाली घटना घटित हुई ।
        पुलिस ने हल्का लाठीचार्ज अश्रु गोले छोड़े जब कहीं स्थिति नियंत्रण में हुई ।बताया यह जा रहा है कि यह क्षेत्र रामगंज मंडी की विधायक का चंद्रकांता मेघवाल के इलाके में आता है लेकिन इस इलाके में गुजरो का बहुत आतंक है और अतिक्रमण भी उन्होंने किए हुए हैं ।बाड़े के बाड़े उन्हें न्यास की जमीन और फॉरेस्ट की जमीन पर अतिक्रमण कर रखा न्यास की जमीन और फॉरेस्ट  की जमीन पर एक विधायक का वरदहस्त प्राप्त है ।
      आचार संहिता लगते ही यूआईटी के सचिव कन्हैया लाल वैष्णव ने करोड़ों रुपए की जमीन पर कॉलोनी काटने का प्लान बनवाया लेकिन अतिक्रमण होने के कारण वह योजना ठंडे बस्ते में रखी रह गई ।आज ऐसे ही अतिक्रमण क्षेत्र में बने चार मकानों को तोड़ने यूआईटी दस्ता गया तो अतिक्रमण कार्यों के हौसले इतने बुलंद थे उन्होंने यूआईटी पुलिस और पत्रकारों को मारपीट कर घायल कर दिया ।
आग के हवाले कि JCBU
शहर पुलिस कप्तान दीपक भार्गव ने तत्काल अतिरिक्त जाब्ता भेज कर स्थिति को नियंत्रण में लिया नहीं तो बहुत बड़ी घटना घटित हो सकती थी इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंट मीडिया के पत्रकार हाउ लाल शर्मा  त्रिभुवन संजय दत्त दुष्यंत सिंह गहलोत लोकल चैनल  एचटीएन हेमंत मेहरा सहित कई पत्रकारों को गंभीर चोटे आई है पत्रिका के हाउ लाल का सिर फट गया है और उनके सिर में काफी गंभीर चोट है संजय दत्ता का हाथ चोटिल हुआ है वहीं लोकल चैनल के हेमंत मेहरा का हाथ टूट गया है दुष्यंत सिंह का पैर गंभीर चोट के कारण चोटिल हुआ है आधा दर्जन से भी अधिक पुलिसकर्मी अतिक्रमणकारियों की गुंडागर्दी के शिकार हुए हैं और उन्हें भी गंभीर चोटें आई हैं।
पत्रकारों को मिले सरक्षण
          प्रेस क्लब अध्यक्ष गजेंद्र व्यास, उपाध्यक्ष प्रताप सिंह तोमर, सह सचिव गिरीश गुप्ता, सचिव जितेंद्र शर्मा, राजेंद्र सिंह हाड़ा, शैलेंद्र मेडतवाल आदि ने अस्पताल पहुंचकर घायलों की कुशल क्षेम पूछी और इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए प्रशासन से मांग की कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।श्रमजीवी पत्रकार संघ के अध्यक्ष रमेश गांधी ने इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा की है और प्रशासन से मांग की है कि घायल पत्रकारों को उचित मुआवजा और चिकित्सा सुविधा दिलाई जाए पुलिस प्रशासन पत्रकारों को कवरेज में संरक्षण दे।