CM की मौजूदगी के दौरान भाजपा का कांग्रेस ने दिया तगडा राजनीति झटका

0

गीतांजलिपोस्ट

डॉ.प्रभात कुमार सिंघल ,कोटा

पूर्व पार्षद जयप्रकाश शर्मा उर्फ जेजे ने सैकडों कार्यकर्ताओं की टीम के साथ थामा कांग्रेस व पूर्व मंत्री शांति धारीवाल का हाथ कांग्रेस ने शुरू किया हाडौती में मुख्यमंत्री व भाजपा के द्वारा बनावटी गढ ढहाना

हाडौती में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के दौरे व उनके रोड शो के बाद से पंजे के निशान की यह पार्टी भाजपा पर भारी पडती नजर आ रही है। रविवार को कांग्रेस के पंजे ने भाजपा के कमल को बडा राजनीति झटका देते हुए तगडा नुकसान पहुंचाया है। कोटा शहर के रामपुरा में रहने वाले जनसंघ से भाजपा के सिपाही रहे एक जनसंघी परिवार को तोडकर पार्टी में शामिल किया है। वह भी मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के हाडौती में तीन दिवसीय झालावाड के दौरे पर रहने के दौरान।
रामपुरा के रहने वाले जयप्रकाश शर्मा उर्फ जेजे ने रविवार को सैकडों कार्यकर्ताओं व अपने समर्थकों के साथ कांग्रेस व हाडौती के कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता शांति धारीवाल का हाथ थामा है। जेजे शर्मा ने कांग्रेस का दाम थामकर भाजपा को राजस्थान विधानसभा चुनाव के शुरूआती माहौल में गहरा राजनीति झटका देते हुए कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की है। जेजे शर्मा के कांग्रेस में शामिल होने को राजनीति गलियारों में राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के दौरे के बाद कांग्रेस का भाजपा पर यह पहला राजनीति अटैक माना जा रहा है। वहीं मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे व भाजपा के बनावटी गढ को ढहाने में कांग्रेस जुट गई है। चूंकि पिछले विधानसभा चुनाव में हाडौती में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लहर में कांग्रेस पार्टी का भाजपा ने कोटा संभाग में 17 में से 16 विधानसभा सीटें जीतकर बडा नुकसान पहुंचाया था। अब राहुल गांधी के दौरे के बाद कांग्रेस भाजपा से इस तरह 7 दिसंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव में हिसाब बराबर करने में जुट गई है।
हिसाब बराबरी का यह पहला रूझान रविवार को जेजे शर्मा के कांग्रेस में विलय होने के साथ नजर आया है। चूंकि रामपुरा बडी समाध स्थल पर आयोजित कार्यक्रम में कांग्रेस का दामन थामने के साथ जयप्रकाश शर्मा उर्फ जेजे ने कहा कि भाजपा में जनसंघ से जुडे कार्यकर्ताओं की बेकद्री हो रही है। भाजपा में जो नए लोग जुडते जा रहे उनकी पूछ परख हो रही है। शहर का रामपुरा इलाके में भाजपा जनसंघ से मजबूत रही है लेकिन लगातार कार्यकर्ताओं की अनदेखी और पिछले पांच साल में क्षेत्र के विकास में पिछडने से आहत होकर उन्होंने कांग्रेस व पूर्व मंत्री शांति घारीवाल का हाथ थामा है। जेजे शर्मा ने कांग्रेस की सदस्यता अपने दोनों बेटों के साथ ग्रहण की है।
जेजे शर्मा ने कहा भाजपा में केंद्र नेतृत्व से लेकर भाजपा विधायकों व जिला कार्यकारिणी अहंकार से भरी पडी है। जबकि उसका परिवार जनसंघ के जमाने से भाजपा की सेवा करता हुआ आया है। लेकिन आज के वक्त में भाजपा में पुराने कार्यकर्ताओं को कोई तवज्जों नहीं दी जा रही है।
पूर्व मंत्री शांति धारीवाल ने जयप्रकाश शर्मा उर्फ जेजे को कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कराते हुए कहा है कि भाजपा का आज हर नेता अहंकार से भरा पडा है। भाजपा के नेताओं की गर्दन नीचे के कार्यकर्ताओं की ओर झुकना बंद हो गई है। ऐसे में कांग्रेस में भाजपा के कार्यकर्ताओं विश्वास बढने लगा है। चूंकि कांग्रेस की पिछली सरकार में राजस्थान में चौतरफा विकास हुआ, कोटा शहर के रामपुरा में भी कई विकास कार्य कांग्रेस की पिछली अशोक गहलोत सरकार के वक्त करवाए गए। लेकिन पांच साल के भाजपा शासन में शहर का प्रमुख इलाका रामपुरा
धारीवाल ने कहा विकास की दौड में काफी पिछडा। जिसकी नाराजगी लोग भरे पडे है। कांग्रेस सत्ता में आते हुए समुचित राजस्थान, कोटा शहर में फिर से कांग्रेस सत्ता में आकर चौमुखी विकास करवाएगी। जनता को अहंकार व जनविरोधी सरकार को सत्ता से उखाड फैंकने के लिए 7 दिसंबर की तारीख का इंतजार है। कांग्रेस में भाजपा वरिष्ठ नेता जयप्रकाश शर्मा उर्फ जेजे के शामिल होने के दौरान रामपुरा बडी समाध पर हुए कार्यक्रम में बडी संख्या में कांग्रेस के पीसीसी महासचिव पंकज मेहता सहित कई कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे। जहां पर जयप्रकाश शर्मा का फूल मालाओ ंसे कांग्रेस में स्वागत किया गया। ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here