संसदीय समिति ने कहा- यात्रियों के लिए इंडिगो सबसे खराब एयरलाइंस

0
5

नई दिल्ली। इंडिगो एयरलाइंस को संसदीय कमेटी ने अपने उपभोक्ताओं के लिए सबसे खराब प्रदर्शन करने वाली एयरलाइंस का दर्जा दिया है। परिवहन, पर्यटन और संस्कृति पर संसदीय स्थायी समिति के अध्यक्ष डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि इंडिगो एयरलाइंस उपभोक्ताओं की शिकायतों का जवाब नहीं देती है। साथ ही लगेज का वजन एक-दो किलो भी अधिक हो जाने पर वह चार्ज ले लेती है। उन्होंने कहा कि इस मामले को समिति गंभीरता से देख रही है।

गुरुवार को डेरेक ओ ब्रायन ने बताया कि समिति ने सिफारिश की है कि एयरलाइंस में टिकट कैंसिल कराने का चार्ज 50 फीसदी बेसिक किराए से अधिक नहीं हो सकता है। यात्रियों से वसूला जाने वाला कर और ईंधन अधिभार वापस किया जाना चाहिए। एयरलाइंस बहुत ज्यादा चार्ज कर रही हैं।

उदाहरण के तौर पर अगर आप इंडिगो एयरलाइंस की फ्लाइट से 1 जनवरी को दिल्ली से लखनऊ जाते है तो आपको 2170 चुकाने होंगे, इसमें 1292 रुपये बेसिक किराया है। अगर समिति की सिफारिश लागू होती है तो, आपको यात्रा से पहले टिकट कैंसिल कराने पर सिर्फ 646 रुपये देने होंगे। जबकि अभी अलग-अलग एयरलाइंस का कैंसिलेशन चार्ज अलग-अलग है। इंडियो एयरलाइंस का कैंसिलेशन चार्ज 3000 हजार रुपए है।

बता दें, इंडिगो एयरलाइंस को लेकर शिकायतें आम हैं। बीते 23 दिसंबर को पोर्ट ब्लेयर से कोलकाता उड़ान भरने वाली इंडिगो की A320 फ्लाइट का इंजन फेल हो गया था। उसे आधे रास्ते से वापस लाकर पोर्ट ब्लेयर में सेफ लैंडिंग करानी पड़ेगी। इसी महीने 15 दिसंबर को एक महिला यात्री ने लखनऊ जा रहे इंडिगो के विमान में बम होने की शिकायत की थी। इसके बाद सुरक्षा को देखते हुए विमान की उड़ान को रद्द कर दिया गया था।