देर से ही सही, सरकार को सद्बुद्धि तो आईः संदीप शर्मा

0
10

गीतांजलि पोस्ट……..….(प्रभात सिंघल) कोटा:- संतोषी नगर में शराब ठेकों के विरोध में पिछले 15 दिनों से चल रहे महिलाओं के धरने को लेकर विधायक संदीप शर्मा ने सरकार की खिंचाई की है। संदीप शर्मा ने गुरूवार को कहा कि शराब के ठेके को बंद करने के लिए महिलाओं और भाजपा कार्यकर्ताओं को 15 दिन तक आन्दोलन करना पड़ा। इस स्थान पर शराब ठेका कानून व्यवस्था के लिए चुनौती बन गया था, यह बात पहले दिन से ही पता थी। इसके बावजूद राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन तथा कांग्रेस के जनप्रतिनिधि पहले से स्थानान्तरित दो ठेकों के नाम पर बाकी दो ठेकों को बचाने में जुटा रहा। इस दौरान महिलाओं को गणगौर जैसा लोकपर्व भी धरना स्थल पर मनाना पड़ा, लेकिन सरकार इतने पर भी नहीं पसीजी। संदीप शर्मा ने कहा कि जब राज्य सरकार को धरने के कारण से होने वाले राजनीतिक नुकसान की सुध आई तब जाकर इन्हंें बंद करने का फैसला किया गया। भाजपा पार्षद और कार्यकर्ताओं ने लगातार महिलाओं के इस आन्दोलन का समर्थन किया। अब प्रदेश सरकार के द्वारा किए गए इस फैसले के लिए कहा जा सकता है कि यह देर से किया सही फैसला है। अब भारतीय जनता पार्टी यह मांग करती है कि जहां भी शराब ठेकों को लेकर विरोध है, वहां इन्हें वापस लिया जाए।