मेरी उम्र की महिलाएँ’ एवं ‘मुसाफ़िरनामा’ का लोकार्पण

0
32

गीतांजलि पोस्ट@अरविन्द जांगिड़…. जयपुर। प्रख्यात कवि एवं लेखक कर्नल अमरदीप की चर्चित दो पुस्तकों ‘मेरी उम्र की महिलाएँ’ (काव्य संग्रह) और ‘मुसाफ़िरनामा’ (अपने समय का लेखा) का लोकार्पण, जयपुर के सुदर्शनपुरा स्थित बोधि प्रकाशन सभागार में प्रवीण नाहटा की अध्यक्षता, कवियित्री और चित्रकार सुश्री अंजना टंडन एवं अजीतगढ़ के आशीष शर्मा खाण्डल के मुख्य आतिथ्य द्वारा भव्य गरिमामय आयोजन में सम्पन्न हुआ। इस आयोजन में जयपुर के नामचीन रचनाकार, कवि, सैनिक परिवारों के सदस्य व साहित्य प्रेमी इस आयोजन के साक्षी बने। कर्नल अमरदीप की यह पुस्तके बोधि प्रकाशन, जयपुर से प्रकाशित हुई हैं।

मेरी उम्र की महिलाएं’ लेखक का चौथा कविता संग्रह है और ‘मुसाफिरनामा’ इसी नाम से लिखे जा रहे समसामयिक विषयों के स्तम्भ का संकलन है कर्नल अमरदीप की इस पुस्तक में में यह मालूम पड़ता है यदि व्यवस्था में लय हो तो बहुत सारी समस्याएं हल हो सकती हैं। मगर इस लय को लाने के लिए बहुत त्याग, बलिदान करना होता है। सामाजिक और राजनैतिक सरोकारों को साहित्य से जोड़कर समाज में चेतना लाने के लिए सक्रिय कर्नल अमरदीप की यह पुस्तक पाठको को बहुत रोचक लगेगी पुस्तक का आकर्षक चित्रांकन, कार्टून और रेखाचित्र जन टीवी के कार्टूनिस्ट कमल किशोर ने किया है।

इस अवसर पर दोनों पुस्तकों के किन्डल संस्करण का भी लोकार्पण हुआ। कार्यक्रम का शानदार संचालन लेखिका और कवयित्री शिवानी शर्मा ने किया एवं अंत मे बोधि प्रकाशन के कवि एवं प्रकाशक मायामृग ने सभी अतिथियों, कार्यक्रम में उपस्थित सभी आगुन्तको का आभार प्रकट किया।