0
63

गीतांजलि पोस्ट……..(विनय शर्मा) सांभर लेक:- पशुपालन मंत्री लालचंद कटारिया ने आज सांभर में झील क्षेत्र का दौरा किया साथ ही झील में  विदेशी पक्षियों को बचाने के लिए चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन का निरीक्षण किया। इसके साथ ही मंत्री कटारिया ने वहां मौजूद विभिन्न विभागों के अधिकारियों से जानकारी जुटाई। मंत्री के साथ स्थानीय विधायक निर्मल कुमावत , पशुपालन विभाग के निदेशक शैलेश शर्मा, ज्वाइन डायरेक्टर उमेद सिंह व वन विभाग से मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक अरिदम तोमर मौजूद रहे।

झील से एसडीआरएफ टीम द्वारा मृत पक्षियों को निकालने का कार्य आज भी जारी रहा। आज 1 दर्जन से अधिक बीमार पक्षियों को भी टीम ने बाहर निकालकर रेस्क्यू टीम को सुपुर्द कर दिया जहां डॉक्टरों ने पक्षियों को उपचारित किया।

कटारिया ने कहां  झील में पक्षियों के मरने के कारणों की जांच चल रही है हमारी विशेषज्ञ टीमें इस कार्य में लगातार जुटी हुई है केंद्र से भी कल विशेषज्ञों की टीम आने वाली है, जो पानी व पक्षियों का सैंपल एकत्रित करेगी।

विधायक निर्मल कुमावत ने कहा पक्षियों के मरने की जांच रिपोर्ट आने में समय अधिक लग रहा है। सरकार के पास संसाधनों की कमी नजर आ रही है। नीचे के लोग व स्वयंसेवी संस्था बचाव कार्य में जुटे हुए हैं संसाधन बढ़ाने की जरूरत है।

पशुपालन विभाग के डायरेक्टर शैलेश शर्मा ने कहा विभाग द्वारा लगातार गंभीरता से घटना पर नजर बनाए हुए हैं

मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक अरिंदम ने कहा झील में पक्षियों के मरने की सूचना मिलते ही हमारा विभाग मौके पर पहुंच गया था तब से लगातार हमारी टीम रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर पक्षियों को बचाने व मृत पक्षियों को निकालने का कार्य कर रही है हमारे अधिकारी निरंतर क्षेत्र में बने हुए हैं।मंत्री ने सर्किट हाउस में अधिकारियों से बैठक कर आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए।